रात 9 बजे से सुबह 9 बजे तक का बुलेटिन-एक क्लिक कर पढ़े 10 बड़ी खबरें

रात 9 बजे से सुबह 9 बजे तक का बुलेटिन- एक क्लिक कर पढ़ें 10 बड़ी खबरें

1.मोदी का आज 67th बर्थडे, गांधीनगर में मां हीराबा से लिया आशीर्वाद

नरेंद्र मोदी की मां हीराबा छोटे भाई के पास गांधीनगर में रहती हैं। पिछले साल भी बर्थडे पर मोदी ने मां का आशीर्वाद लिया था
अहमदाबाद.नरेंद्र मोदी का रविवार को 67th बर्थडे है। इस मौके पर वे गांधीनगर पहुंचे और वहां मां हीराबा का आशीर्वाद लिया। मोदी पहले भी हर जन्मदिन पर अपनी मां से मुलाकात करने जाते रहे हैं। मोदी की मां छोटे भाई पंकज के पास रहती हैं। पिछले साल भी जन्मदिन पर मोदी ने अचानक घर पहुंचकर मां से आशीर्वाद लिया था। रविवार को मोदी 138.68 मीटर ऊंचे सरदार सरोवर डैम का इनॉगरेशन करेंगे। इसके बाद डभोई-वडोदरा में रैली करेंगे। इससे पहले बुधवार को जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के दौरे के चलते मोदी गुजरात पहुंचे थे। मोदी ने आबे के साथ 8 किमी लंबा रोड शो किया। इसके बाद देश की पहली बुलेट ट्रेन की नींव भी रखी थी। 3 दिन में उनका ये दूसरा गुजरात दौरा है।

2. भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला वनडे आज, ऐसी हो सकती है प्लेइंग इलेवन

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच अब तक 8 वनडे सीरीज हो चुकी हैं, जिनमें से 3भारत ने जीती हैं।
स्पोर्ट्स डेस्क. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 5 मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच रविवार को चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में दोपहर 01.30 बजे से खेला जाएगा। श्रीलंका टूर पर 9-0 (तीन टेस्ट, पांच वनडे और एक टी-20) से मिली जीत से टीम इंडिया का कॉन्फिडेंस काफी हाई है और अब उसकी कोशिश ऑस्ट्रेलिया से पहला मैच जीतने के साथ ही अपना स्कोर परफेक्ट 10 करने पर होगी। हालांकि ऑस्ट्रेलियाई टीम काफी मजबूत है और सीरीज में भारत को कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच अब तक कुल 123 वनडे मैच हुए हैं, जिनमें से भारत ने 41 जीते हैं, वहीं ऑस्ट्रेलिया को 72 मैचों में जीत मिली है। 10 मैचों का कोई रिजल्ट नहीं निकला है।

3. पहली बार जंग में मदद करेंगी 20 महिला अफसर, पश्चिमी सीमा का ले रहीं जायजा

ये अफसर आसपास के गांवों में भी जाती हैं और लड़कियों को सेना में अाने के लिए मोटिवेट करती हैं।
जैसलमेर. पाकिस्तान की सीमा से सटा शाहगढ़ बल्ज। इस सीमा का सबसे दुर्दांत क्षेत्र। चारों तरफ 40-40 फीट तक के रेत के टिब्बे। इसके बीच 20 जांबाज महिला अफसर कुछ पुरुष अफसरों के साथ सीमा का जायजा ले रही हैं। कभी पैदल तो कभी थक जाने पर ऊंट पर। सीमा के चप्पे-चप्पे को समझ रही हैं। ऑपरेशनल तैयारी देख रही हैं। पाकिस्तान के क्षेत्र को देख रही हैं। ये अफसर आसपास के गांवों में भी जाती हैं और लड़कियों को सेना में अाने के लिए मोटिवेट करती हैं। दरअसल अब बॉर्डर पर गश्त और लड़ाकू विमान उड़ाने वाली महिलाएं युद्ध के हालात में भी फ्रंट पर होंगी। यहां इसकी तैयारी चल रही है। यह जानकारी भास्कर सबसे पहले आपको दे रहा है। भारत पहली बार जैसलमेर से लगी पाकिस्तान सीमा पर बीएसएफ और एयरफोर्स की महिला शक्ति की संयुक्त ताकत दिखा रहा है।

4. मार्शल अर्जन सिंह नहीं रहे, एयरफोर्स के 5 स्टार रैंक वाले इकलौते अफसर थे

मार्शल अर्जन सिंह 5 स्टार रैंक वाले एयरफोर्स के इकलौते अफसर थे। -फाइल
नई दिल्ली. एयरफोर्स के इकलौते मार्शल अर्जन सिंह नहीं रहे। वे 98 साल के थे। रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, शनिवार सुबह दिल का दौरा पड़ने पर उन्हें दिल्ली के आर्मी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। शाम को नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण उनका हाल जानने के लिए हॉस्पिटल पहुंचे थे। मार्शल अर्जन सिंह महज 44 साल की उम्र में एयरफोर्स चीफ बने थे। पाकिस्तान के साथ 1965 की जंग में उतरी एयरफोर्स की कमान उनके ही हाथों में थी। बता दें कि देश की तीनों सेनाओं में अब तक तीन मार्शल हुए हैं। अर्जन सिंह उनमें से एक थे। उन्हें 5 स्टार रैंक हासिल करने का गौरव मिला। प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद ने कहा, “भारतीय वायु सेना के बहादुर वॉरियर के निधन पर मुझे गहरा दुख है। उनके परिवार और IAF कम्युनिटी के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। वे वर्ल्ड वार-2 के हीरो थे। उन्होंने 1965 की जंग में अपनी लीडरशिप की बदौलत देश में अपने लिए सम्मान हासिल किया।”

5. 1965 की जंग के हीरो थे मार्शल अर्जन, एक घंटे में PAK पर किया था हमला

1945 में लुइस माउंटबेटन से DFC लेते अर्जन सिंह। (फाइल)
नई दिल्ली.एयरफोर्स के मार्शल अर्जन सिंह (98) का शनिवार को निधन हो गया। वे आर्मी हॉस्पिटल में भर्ती थे। नरेंद्र मोदी और डिफेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण अर्जन सिंह को देखने हॉस्पिटल पहुंचे थे। 1965 में पहली बार जब एयरफोर्स ने जंग में हिस्सा लिया तो अर्जन सिंह ही उसके चीफ थे। जंग शुरू होने पर डिफेंस मिनिस्टर यशवंत राव चह्वाण ने सिंह को ऑफिस में बुलाया। उनसे पूछा गया कि एयरफोर्स कितनी देर में आर्मी की मदद के लिए पहुंच सकती है। सिंह ने जवाब दिया… एक घंटे में। एयरफोर्स ने एक घंटे के भीतर ही पाकिस्तानी फौजों पर हमला बोल दिया। अर्जन सिंह को 2002 में एयरफोर्स का पहला और इकलौता मार्शल बनाया गया। वे एयरफोर्स के पहले फाइव स्टार रैंक ऑफिसर बने। 1965 की जंग में उनके कंट्रिब्यूशन के लिए भारत ने उन्हें इस सम्मान से नवाजा था। उन्हें 1965 में ही पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया गया। सिंह 1 अगस्त 1964 से 15 जुलाई 1969 तक चीफ ऑफ एयर स्टाफ (CAS) रहे।

6. स्कूल सावधानी बरतता तो बच्चे की मौत नहीं होती: गुड़गांव मर्डर पर CBSE

सीबीएसई ने कहा कि स्कूल बुनियादी सुरक्षा उपायों का पालन करने में फेल रहा है इसलिए क्यों न उसकी मान्यता रद्द कर दी जाए?
नई दिल्ली.सीबीएसई (सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन) ने गुड़गांव के रेयान इंटरनेशनल स्कूल को कारण बताओ नोटिस भेजा है। इसमें कहा गया है कि स्कूल बुनियादी सुरक्षा उपायों का पालन करने में फेल रहा है इसलिए क्यों न उसकी मान्यता रद्द कर दी जाए? नोटिस में सीबीएसई ने ये भी कहा है कि स्कूल सावधानी बरतता तो बच्चे की मौत को टाला जा सकता था। बता दें कि इस स्कूल में 8 सितंबर को 7 साल के बच्चे का मर्डर हो गया था। बच्चे की बॉडी स्कूल के टॉयलेट में मिली थी। न्यूज एजेंसी के मुताबिक CBSE ने इस मामले की जांच के लिए पिछले हफ्ते 2 मेंबर की एक फैक्ट फाइंडिंग कमेटी का गठन किया था। कमेटी ने कहा है कि घटना पर गौर करने के बाद रेयान इंटरनेशनल को घोर लापरवाही का दोषी पाया गया है। स्कूल ज्यादा सावधान रहता तो बच्चे की मौत से बचा जा सकता था।

7. राहुल बाबा आपकी 4 पीढ़ियों ने 50 साल राज किया, उनके काम का हिसाब दें: शाह

अमित शाह ने शनिवार को रांची में कहा, राहुल बाबा आपने जितना दिया, उससे तीन गुना हमने दिया है।
रांची. अमित शाह ने शनिवार को राहुल गांधी पर तंज कसा। कहा, “राहुल बाबा अमेरिका से हमसे सवाल पूछते हैं कि हमने क्या किया। राहुल बाबा आपने जितना दिया, उससे तीन गुना हमने दिया है। लोगों को जवाब देने तो हम झारखंड आए हैं।” शाह ने ये भी कहा, “राहुल बाबा आपकी चार पीढ़ियों (नेहरू-गांधी परिवार) ने देश में 50 साल राज किया, पहले आप उनके काम का हिसाब दें।” न्यूज एजेंसी के मुताबिक बीजेपी अध्यक्ष शाह ने झारखंड दौरे के दूसरे दिन रांची के हरमू मैदान में गरीब कल्याण मेला को एड्रेस किया। उन्होंने कहा, “बीजेपी ने 3 साल में कई विकास कार्यक्रम शुरू किए हैं। मोदी हर मोर्चे पर झारखंड के साथ हैं और राज्य के विकास के लिए चट्टान की तरह साथ खड़े हैं।”

8. सबसे ज्यादा तनाव वाले टॉप-20 शहरों में 4 भारत के, दिल्ली 9th पोजिशन पर

इस स्टडी में ट्रैफिक, पब्लिक ट्रांसपोर्ट, ग्रीन स्पेस, लोगों की फाइनेंसियल स्टेटस, पर कैपिटा इनकम, फिजिकल और मेंटल हेल्प को शामिल किया गया था। -फाइल
लंदन. दुनिया में सबसे ज्यादा और सबसे कम तनाव किन शहरों में है। इसे लेकर हुई एक स्टडी में कई इंट्रेस्टिंग बातें सामने आई हैं। टॉप-20 सबसे ज्यादा तनाव वाले शहरों में भारत के चार शहर हैं। टॉप-10 में दिल्ली 9वें नंबर पर है। मुंबई 13वें, कोलकाता 19वें और बेंगलुरु 20वें नंबर पर हैं। पहले नंबर पर इराक की राजधानी बगदाद है। दूसरे पर काबुल है। ढाका 7वें और कराची 8वें में दिल्ली से ज्यादा तनाव है। वहीं, टॉप-10 सबसे कम तनाव वाले शहरों में जर्मनी का स्टटगार्ट पहले नंबर पर है। दूसरे पर लक्जमबर्गसिटी व तीसरे पर हनोवर है। यह स्टडी ब्रिटेन की ड्राई क्लीनिंग और लॉन्ड्री सर्विस जिपजेट ने दुनिया के 150 बड़े शहरों पर की है। एजेंसी ने इन शहरों में 500 से ज्यादा जगहों से आंकड़े जुटाए, जो 17 कैटेगरी पर आधारित थे। मानसिक शांति, बैंक बैलेंस और जॉब सेक्योरिटी के मामले में जर्मनी सबसे अच्छी जगह है।

9. GST से ऑनलाइन शॉपिंग महंगी, लेकिन कंपनियां नहीं मानती; घाटे में कस्टमर

ऐसे आॅनलाइन सप्लायर जो एक राज्य से दूसरे राज्य में अपना सामान ऑनलाइन बेचेंगे उन्हें भी जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है। ऐसे में उनका टैक्स एक्सपेंडिचर बढ़ रहा है
नई दिल्ली. देश में गुड्स एंड सर्विसेस टैक्स (जीएसटी)

10. केंद्रीय मंत्री नकवी की बहन को जान से मारने की धमकी, कार से किया पीछा

फरहत नकवी (मोबाइल लिए हुए) एनजीओ चलाती हैं और तलाक शुदा महिलाओं की लड़ाई लड़ती हैं।
बरेली. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फरहत नकवी को जान से मारने की धमकी दी गई है। उन्हें ये धमकी उस वक्त मिली, जब वो पुलिस लाइन में किसी काम को निपटाकर घर लौट रही थीं। फरहत ने पुलिस से घटना की शिकायत की है। बता दें कि फरहत एक एनजीओ चलाती हैं और तलाक शुदा महिलाओं की लड़ाई लड़ती हैं। फरहत नक़वी के मुताबिक, जब वो अपना काम पुलिस लाइन से निपटाकर लौट रही थीं, तभी कार सवार कुछ लोगों ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया। चौकी चौराहे के पास पहुंचने के बाद फरहत ने कार को रोककर उसमें सवार लोगों से सवाल किया, “तुम लोग पीछा क्यों कर रहे हो।” इस पर कार में सवार लोगों ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी और आगे निकल गए। फरहत ने कोतवाली में इस घटना की शिकायत दर्ज कराई है। इस मामले में उन्होंने एसएसपी को जानकारी दी है।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *