सीट बेचने के आरोप पर गोपाल राय ने गिनाई ईमानदारी की 6 बड़ी वजह

Breaking News Headline News National News Politics

सीट बेचने के आरोप पर गोपाल राय ने गिनाई ईमानदारी की 6 बड़ी वजह

नई दिल्ली

आम आदमी पार्टी सरकार में मंत्री और पार्टी की पॉलिटिकल अफ़ेयर कमिटी के सदस्य गोपाल राय ने 50 करोड़ रुपए में राज्यसभा टिकट बेचे जाने के आरोपों पर सफाई पेश की है. फेसबुक पर पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत के दौरान गोपाल राय ने अरविंद केजरीवाल का बचाव करते हुए भ्रष्टाचार न करने की 6 बड़ी वजह गिनाई हैं.

गोपाल राय ने गिनाई ये 6 वजह:

वजह नंबर 1

दिल्ली में पिछले 3 साल से प्रचंड बहुमत की आम आदमी पार्टी सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल हैं. अगर अरविंद केजरीवाल को पैसे खाने होते तो दिल्ली में बिजली कंपनियों का करोड़ों का टर्न ओवर है. हमारी सरकार से पहले हर साल बिजली के दाम बढ़ाये जाते थे और करोड़ों रुपए खाए जाते थे. अगर अरविंद केजरीवाल की नीयत में खोट होता और बिजली कंपनियां दाम बढ़ा दें तो करोड़ों रुपए आम आदमी पार्टी को चन्दे में मिल सकते हैं, लेकिन आम आदमी पार्टी समझौता करने और पैसा कमाने सत्ता में नहीं आई है.

वजह नंबर 2

दिल्ली के अंदर एक हजार से ज्यादा प्राइवेट स्कूल हैं. पहले जब स्कूल की फीस बढ़ती थी तब बीजेपी कांग्रेस के लोग चन्दे के रूप में स्कूलों से पैसा वसूलते थे. अगर अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी को पैसा लेना होता तो प्राइवेट स्कूलों को फीस बढ़ाने की छूट दे देते. लेकिन सरकार ने ऐसा नही किया जबकि प्राइवेट स्कूल जमकर लूट रहे हैं.

वजह नंबर 3

टैंकर माफियाओं से हज़ारों करोड़ की वसूली की जाती थी, लेकिन इन माफियाओं पर लगाम सिर्फ अरविंद केजरीवाल लगा सकते हैं.

वजह नंबर 4

दिल्ली में ड्रग माफियाओं के कब्जा था. लेकिन सरकार द्वारा दवाइयां और ईलाज मुफ्त करने के बाद ड्रग माफियाओं का जाल टूट गया है.

वजह नंबर 5

दिल्ली में कई बड़े अस्पताल हैं. अगर अरविंद केजरीवाल ईमानदारी की राजनीति नहीं कर रहे होते तो मैक्स हॉस्पिटल का लाइसेंस रद्द नही होता. अरविंद केजरीवाल की हिम्मत का कारण ईमानदारी है.

वजह नंबर 6

देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने कहा था कि जब 100 रुपए निकलते हैं तो 90 रुपए ख़त्म हो जाते हैं और 10 रुपए ही बचते हैं. दिल्ली सरकार का 40 हजार करोड़ से ज्यादा का बजट है और केजरीवाल अगर 1% की सेटिंग भी कर लेते तो हजारों करोड़ कमा सकते हैं. लेकिन आम आदमी पार्टी सरकार ने ऐसा नहीं किया.

गोपाल राय ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा “यह पहला मौका नही जब आम आदमी पार्टी को ख़त्म करने और बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. लोग कह रहे हैं कि अरविंद केजरीवाल ने 50 करोड़ में राज्यसभा की टिकट बेच दी, लेकिन दिल्ली में तमाम काले धंधे गए बंद हो गए हैं और यही वजह है कि अरविंद केजरीवाल को हर 3 महीने में बेईमान घोषित करने की कोशिश की जाती है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *