संसद में पास हुआ SBI से जुड़ा बिल, दुनिया की टॉप 50 बैंकों में होगा शामिल

संसद में पास हुआ SBI से जुड़ा बिल, दुनिया की टॉप 50 बैंकों में होगा शामिल

राज्यसभा में स्टेट बैंक (निरसन व संशोधन) विधेयक 2017 के पास होने के साथ ही भारतीय स्टेट बैंक के साथ छह अनुषंगी बैंकों के विलय के विधेयक को संसद की मंजूरी मिल गई है। इस विलय के साथ ही एसबीआई संपत्ति के हिसाब से दुनिया की टॉप 50 बैंकों में शामिल हो गया है। बैंक का अब टोटल कस्टमर बेस 37 करोड़ हो गया है।

नहीं की गई कोई छंटनी :-
गौरतलब है कि राज्यसभा से भी विधेयक को मंजूरी मिलने से अब एसबीआई में स्टेट बैंक ऑफ़ बीकानेर, स्टेट बैंक ऑफ़ त्रावणकोर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर और स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद पूरी तरीक़े से शामिल हो जाएंगे। वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि इन बैंकों के विलय के बाद कुछ कर्मचारी रिटायर जरूर हुए हैं लेकिन कोई छंटनी नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि इस विलय से इन बैंकों की लागत में कमी आएगी और संसाधनों के उपयोग को युक्तिसंगत बनाया जा सकेगा।

लोकसभा में पहले ही बिल हो चुका है पास :-
लोकसभा इस विधेयक को पहले ही मंजूरी दे चुकी है। अब इस विधेयक में इस विलय को पूर्व प्रभाव से मंजूरी दी गई है। विधेयक पर चर्चा के दौरान कांग्रेस के जयराम रमेश सहित कुछ सदस्यों ने एसबीआई के निजीकरण को लेकर आशंका भी जताई थी। कई सदस्यों ने बैंकों के नियमन एवं निगरानी प्रणाली को दुरूस्त बनाए जाने की आवश्यकता पर जोर दिया है।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *