प्रधानमंत्री मोदी के गांव में नहीं चला कोई जादू, हारी गई बीजेपी

Breaking News Headline News National News Politics

प्रधानमंत्री मोदी के गांव में नहीं चला कोई जादू, हारी गई बीजेपी

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 में ऊंझा विधानसभा सीट से बीजेपी के नारायणभाई लल्लूदास पटेल, कांग्रेस की आशाबेन पटेल, बीएसपी के घनश्याम सोलंकी  और आम आदमी पार्टी से रमेशभाई पटेल मैदान में थे. पूरे गुजरात में मोदी का जलवा कायम रहा, लेकिन उनके गृहनगर की इस सीट पर कांग्रेस ने बाजी मार ली.

कांग्रेस की आशा पटेल ने बड़े अंतर से बीजेपी उम्मीदवार को शिकस्त दी. उन्होंने 20 हजार से ज्यादा वोटों के अंतर से इस सीट पर अपना कब्जा किया.
मोदी के घर में बीजेपी की हार
मेहसाणा जिले के इस विधानसभा क्षेत्र में वडनगर भी आता है. वडनगर पीएम मोदी का जन्मस्थान है. उन्होंने यहीं पर अपना बचपन गुजारा. गुजरात में चुनाव से ठीक पहले वडनगर का दौरा किया था. जहां उनका ग्रैंड स्वागत किया गया था. लेकिन कांग्रेस की आशा पटेल ने पीएम मोदी के घर में बीजेपी को मात दी है.
ऊंझा विधानसभा सीट बीजेपी का गढ़ मानी जाती है. हालांकि इसे पटेल नारायणभाई लल्लूदास का गढ़ कहना ज्यादा सही होगा क्योंकि पिछले पांच बार से यानी 1995 से नारायणभाई लल्लूदास ही जीतते आ रहे हैं. इसी वजह से बीजेपी ने इस बार भी पटेल नारायणभाई लल्लूदास को छठी बार मैदान में उतारा है. इस विधानसभा सीट पर कांग्रेस सिर्फ 1962 और 1972 में ही चुनाव जीत सकी है.
मेहसाणा जिले में कुल सात विधानसभा- खेरालू, ऊंझा, विसनगर, बेचारजी, कडी, मेहसाणा और वीजापुर शामिल है, जिसमें एक सीट आरक्षित और 6 सीटें अनारक्षित हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *