कनाडा भेजने के नाम पर इंडोनेशिया पहुंचाकर छीना पास्पोर्ट,18.50 लाख ठगे

कनाडा भेजने के नाम पर इंडोनेशिया पहुंचाकर छीना पास्पोर्ट,18.50 लाख ठगे

लुधियाना (ऋषि) : वर्क परमिट पर कनाडा भेजने के नाम पर 18 लाख 50 हजार की ठगी करने के आरोप में थाना डिवीजन नं.-8 की पुलिस ने नीरज गुप्ता निवासी बाबा थान सिंह नगर की शिकायत पर बहनें वीरपाल कौर, सुखजिंद्र कौर ट्रैवल एजैंट कमलजीत सिंह ग्र्रेवाल, रितेश शाह और किट्ट निवासी मुंबई, बावेश गिरी निवासी गुजराज के खिलाफ इमीग्रेशन एक्ट और धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार मामले में नामजद सभी आरोपियों की तालाश की जा रही है।

पुलिस को दी शिकायत में पीड़ित ने बताया कि 7 नवम्बर, 2016 को पढऩे के लिए साइप्रस गया था, जहां उसकी पहचान वीरपाल कौर निवासी मोगा से हुई, जो वर्क परमिट पर साइप्रस में रह रही थी। वीरपाल कौर ने उसे कहा कि वे कनाडा जाना चाहती है। जिस संबंधी उसकी बहन सुखजिंद्र कौर की टै्रवल एजैंट ग्रेवाल के साथ बात चल रही है, जो पहले 2 वर्ष सिंगापुर रहकर आ चुकी है।

वीरपाल कौर की बातों में आकर नीरज भी कनाडा जाने के सपने देखने लग पड़ा और सुखजिंद्र कौर से उसकी भी बात करने को कहा। इसके बाद वीरपाल कौर ने अपनी बहन से नीरज की बात करवा दी, जिसने पहले कनाडा के लिए 15 लाख रुपए और बाद में 20 लाख रुपए उक्त टै्रवल एजैंट ग्रेवाल को देने की बात कही और शिकायतकत्र्ता इस बात को मान गया। जिसके बाद नीरज 28 जनवरी 2018 को भारत वापस आया। मुलाकात करने पर टै्रवल एजैंट ने बताया कि वे पहले इंडोनेशिया और फिर कनाडा भेजेगा और दोनों बहनों व शिकायतकत्र्ता के इंडोनेशिया के एक होटल के कमरें बुक करवा दिए।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *