तेज बारिश का अलर्ट, 30 किमी/घंटे की रफ्तार से आएगा तूफान, 48 घंटे रहेगा असर ।

मौसम में बदलाव के कारण धमतरी जिले में कंपा देनी वाली ठंड शुरू हो चुकी है। मौसम विज्ञानियों ने पश्चिमी विक्षोभ…

तेज बारिश का अलर्ट, 30 किमी/घंटे की रफ्तार से आएगा तूफान, 48 घंटे रहेगा असर मौसम में बदलाव के कारण धमतरी जिले में कंपा देनी वाली ठंड शुरू हो चुकी है।

मौसम विज्ञानियों ने पश्चिमी विक्षोभ…मौसम में बदलाव के कारण धमतरी जिले में कंपा देनी वाली ठंड शुरू हो चुकी है। मौसम विज्ञानियों ने पश्चिमी विक्षोभ (चक्रवात) की एक लहर यहां भी बताया है। उत्तर भारत हो रही बर्फबारी के कारण भी वहां से ठंडी हवाएं इधर आ रही हैं। उधर समुद्री तूफान का भी असर है। हालांकि यह सोमवार को आंध्र प्रदेश से टकराएगा।

इसके कारण तेज बारिश की चेतावनी भी मौसम विज्ञानियों ने दी है। इसका ज्यादा असर दक्षिणी छत्तीसगढ़ और उससे लगे हुए जिले यानी धमतरी पर भी पड़ेगा। हालांकि धमतरी के पहुंचते तक इसकी रफ्तार 30 किमी प्रतिघंटा से ज्यादा नहीं रहेगी लेकिन मौसम पर इसका असर ज्यादा पड़ेगा। लेकिन यदि रफ्तार इससे ज्यादा हुई तो और ज्यादा बारिश होगी। इधर पूरे अंचल में बीते एक हफ्ते से सुबह 5 बजे से 9.30 बजे तक घना कोहरा रोज छा रहा है। इस दौरान 100 मीटर दूर की वस्तु भी स्पष्ट नजर नहीं आ रही है। कोहरे के कारण सुबह 9 बजे तो नेशनल हाईवे पर वाहन दौड़ते नहीं रेंगते हैं।

खराब मौसम का विपरीत प्रभाव दलहन-तिलहन पर :-

किसान भोलानाथ साहू, गौकरण साहू, गैंदलाल पटेल, अंकालूराम साहू ने बताया कि खराब मौसम का विपरीत प्रभाव दलहन-तिलहन की फसल पर पड़ रहा है। तिवड़ा के पौधों में कीट प्रकोप के कारण उसका बढ़ना रुक गया है। दलहन-तिलहन फसल लगाने वाले किसानों की चिंता बढ़ गई है।

बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र :-

लालपुर रायपुर मौसम विभाग के वैज्ञानिक बीके शिंद्धालोरे ने बताया कि समुद्री तूफान फेथई 17 दिसंबर को आंध्रप्रदेश के तट से टकराएगा। इसके असर से दक्षिणी छत्तीसगढ़, आंध्रप्रदेश और उत्तरी तमिलनाडु में रविवार और सोमवार को भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। चक्रवात फेथई के उत्तर-उत्तर पश्चिम की दिशा में आगे बढ़ने और 17 दिसंबर को ओंगोले तथा काकीनाड़ा के बीच आंध्रप्रदेश तट को पार करने की संभावना है। इसका असर प्रदेश के लगभग सभी जिलों में रहेगा। कहीं-कहीं 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तूफान भी आएगा। तेज बारिश भी होगी।

सेहत पर भी विपरीत असर पड़ सकता है :-

जिला अस्पताल के एमडी स्पेशलिस्ट डॉ. संजय वानखेड़े ने बताया कि खराब मौसम का विपरीत असर लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। जिला अस्पताल सहित शहर के निजी अस्पतालों में हेल्दी सीजन में भी मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है। सर्दी के कारण बच्चे व बुजुर्ग मरीजों की संख्या बढ़ गई है। निमोनिया, अस्थमा, गले में इंफेक्शन, डायरिया से पीड़ित बच्चे बड़ी संख्या में अस्पताल पहुंच रहे हैं।

धमतरी. बादल छंटने के बाद अंचल में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। रविवार को सुबह 8 बजे तक घने कोहरे के कारण 20 मीटर दूर पर ही सड़क गायब जा नजर आ रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here